pariksha_kumari
Pariksha Kumari / परीक्षा कुमारी

परीक्षा कुमारी का 'खोज सन्देश'

education

एक परीक्षार्थी की आदत बन गयी थी, अपने आप को कोसते रहना | अपनी कमियों का दोष, अपने आप को देते रहना | स्वयं की निंदा करना अपने आत्मसम्मान का हनन है | मेरे अनुसार अगर 'कोसने' के बजाए स्वयं को 'खोजते' तो कहाँ से कहाँ पहुँच जाते | स्वयं की खोज से अपनी उभरती कमियों को पहचान कर उनको दूर करने के उपाय ढूँढना एक प्रेरक पहलू है | बात सरकारी परीक्षाओं की तैयारी और उनके प्रबंधन की करें तो sarkaripariksha.com एक सुलझा ह ...read more

X

परीक्षा कुमारी का सुरक्षा कवच !

education

परीक्षा देने के साथ-साथ स्वास्थ्य रक्षा भी अहम है। परीक्षार्थियों के लिए नींद और भोजन की उपेक्षा (लापरवाही) महंगी पड़ सकती है। क्योंकि अधूरी नींद में पढ़ा गया विषय कारगर नहीं होता। हमारे शरीर और मस्तिष्क को उचित आराम भी चाहिए। पेट की उथल-पुथल सँभालने के लिए आहार भी चाहिए। झपकी की थपकी को समझो, पाठ ही नहीं पेट भी पूजो।

X

परीक्षा कुमारी का रिक्शा

परीक्षा कुमारी ने अपने ही ढंग से आम लोगों की राय, सरकारी नौकरी के प्रति जानने का बीड़ा उठाया | वह चल पड़ी किराये के रिक्शे पर, कुछ गली–कूचों की ओर ! प्रश्न था सरकारी नौकरी इतनी महत्वपूर्ण क्यों है? राय शुमारी में जो पक्ष उजागर हुए (बातें सामने आईं) उनमें सबसे प्रथम थी नौकरी की स्थिरता, फिर नौकरी से मिलने वाली सुविधाएँ, जैसे: स्वास्थ्य, शिक्षा, महंगाई भत्ता इत्यादि | इतनी महत्वपूर्ण नौक ...read more

X
Pariksha Kumari

हमारी विशेषज्ञ परीक्षा कुमारी आपको सरकारी परीक्षाओं से सम्बंधित हर बारीकी से अवगत करायेंगी | क्या? क्यों? कब? कहाँ? कैसे? और किस तरह? आपका पता है –


sarkaripariksha.com, जहाँ से इन सभी प्रश्नों के उत्तर प्रवाहित होंगें, समाधान मिलेगा |

“सोच से नहीं खोज से बनेगी बात, sarkaripariksha.com के सम्पर्क से बदलेंगें हालात ”